बल्ब का आविष्कार किसने किया (Bulb ka Avishkar Kisne Kiya)



बल्ब का आविष्कार कब हुआ और किसने किया
Spread the love

बल्ब का आविष्कार कब हुआ और किसने किया – आज के इस post में हम आपको बताएँगे की बल्ब का आविष्कार कब हुआ, किसने किया और उससे जुडी हुई अन्य सारी जानकारी।

जैसे की सभी को पता ही है कि जब तक बल्ब का आविष्कार नहीं हुआ था तो मानव जीवन रात को या अँधेरे में कितना कठिन रहा होगा। बल्ब के आविष्कार से पहले लोग रोशनी जलाने के लिए मसाल, दिया का इस्तमाल किया करते थे। लेकिन बल्ब के आविष्कार के बाद संसार कि तस्वीर ही जैसे बदल गयी। जिसकी वजह से जो काम रात को अँधेरे में करना असंभव जैसा वो काम भी आज संभव हो चुके हैं, जो कि पहले दिन के समय में ही हो सकते थे।

बल्ब को बनाने का प्रयास तो बहुत से अन्य वैज्ञानिको ने भी किया था लेकिन इसमें सफल केवल थॉमस ऐल्वा एडीसन (Thomas Alva Edison) ही हुये थे। थॉमस ऐल्वा एडीसन ने बल्ब का आविष्कार 1879 ई. में किया था।  थॉमस ऐल्वा एडीसन एक महान वैज्ञानिक थे उन्होंने केवल बल्ब का ही आविष्कार नहीं किया बल्कि इसके अलावा भी अन्य आविष्कार किये जिनमे मोशन पिक्चर कैमरा, कार्बन टेलीफोन ट्रांसमीटर, एल्कलाइन स्टोरेज बैटरी और ग्रामोफोन जैसे अन्य भी शामिल है।

बल्ब के आविष्कार से जुडी कुछ रोचक जानकारी

डेवी लैम्प (Davy Lamp)

बल्ब बनाने के यानि की बिजली से रौशनी पैदा करने का विचार सबसे पहले सर हंफ्रीडेवी (Sir Humphrey Davy) को आया था । इनका जन्म 17 दिसम्बर 1778 को इंग्लैंड में हुआ था। यह एक ब्रिटिश रासायनज्ञ थे। इन्होने डेवी लैम्प का आविष्कार किया। इसके अलावा इन्होंने इलेक्ट्रोलिसिस, सोडियम, पोटैशियम, कैल्शियम, मैग्नीशियम, बेरियम, बोरोन के भी खोजें की।

बल्ब का आविष्कार - सर हंफ्रीडेवी (Sir Humphrey Davy)
सर हंफ्रीडेवी (Sir Humphrey Davy)

प्रकाश बल्ब (Light Bulb)

इनके बाद जोसेफ विल्सन स्वान (Sir Joseph Wilson Swan) (31 अक्टूबर 1828 – 27 मई 1914) ने जो कि एक अंग्रेजी भौतिक विज्ञानी, रसायनज्ञ और आविष्कारक थे।

उन्होंने 1850 में एक खाली ग्लास बल्ब में कार्बोनेटेड पेपर फिलामेंट्स का प्रयोग करके एक प्रकाश बल्ब (Light bulb) बनाया जो कि 1860 तक एक काम करने वाले उपकरण का प्रदर्शन करने में सक्षम रहा, लेकिन अच्छे वैक्यूम और पर्याप्त बिजली के स्रोत न होने के कारण यह एक छोटे जीवनकाल के साथ एक अयोग्य प्रकाश बल्ब बन कर रह गया ।

लेकिन 1875 में जोसेफ विल्सन स्वान ने एक बेहतर वैक्यूम और एक कार्बोनेटेड धागे की मदद से एक फिलामेंट के रूप में प्रकाश बल्ब की समस्या पर पुनः विचार किया। और फिर जोसेफ विल्सन स्वान ने पहली बार 18 दिसंबर 1878 को सार्वजनिक रूप से अपने कार्बन लैंप का प्रदर्शन किया।

किन्तु यह कुछ मिनटों तक तेज रोशनी से जलने के बाद, अत्यधिक धारा के कारण यह लैंप टूट गया। फिर इसको 17 जनवरी 1879 को फिर से दोहराया गया और यह लैंप जलने में सफल रहा।

जोसेफ विल्सन स्वान ने एक वैक्यूम लैंप के माध्यम से विद्युत प्रकाश व्यवस्था की समस्या को हल किया। फिर भी इसे विश्वसनीयता की समस्याओं का सामना करना पड़ा और यह सफल नहीं हो पाया। और प्रभावी विद्युत लैंप के आम उपयोग में आने से पहले अगले 20 वर्षों में इसे दूसरों द्वारा विकसित किया गया ।

बल्ब का आविष्कार किसने किया (Bulb ka Avishkar Kisne Kiya)

Thomas Alva Edison के जीवन की कुछ रोचक बातें

बल्ब का आविष्कार – थॉमस ऐल्वा एडीसन (Thomas Alva Edison)

थ़ॉमस अल्वा ऍडिसन का जन्म 11 फ़रवरी 1847 में हुआ था। एडिसन को विश्व का पहला औद्योगिक प्रयोगशाला स्थापित करने का श्रेय भी दिया जाता है। अमेरिका में अकेले 1093 पेटेन्ट कराने वाले एडिसन विश्व के सबसे महान आविष्कारकों में गिने जाते हैं। थ़ॉमस ऍडिसन को कम सुनाई  देने के कारण वह 4 वर्ष की उम्र तक बोल भी नहीं पाते थे।

वह स्कूल भी केवल 3 महीने ही जा पाए थे। क्योकि उनके प्रश्नों से तंग आकर उनके एक शिक्षक ने उन्हें ‘मंदबुद्धि’ बोल दे दिया था। जब यह बात एडिसन की माँ को पता चली तो उन्होंने एडिसन को स्कूल से ही निकाल लिया उन्हें घर पर ही पढ़ाने लगी।

थ़ॉमस एडिसन ऐसे वैज्ञानिक है जिन्होंने लगातार 65 वर्षों तक (1868-1933) हर वर्ष किसी न किसी नये आविष्कार के लिए पेटेंट प्राप्त किया था।

एडिसन ने लगभग 1000 तरह के बिजली के (विद्युत) बल्ब बनाएं पर हर बार विफल रहे थे और अंततः उन्होंने बल्ब का आविष्कार किया।

Light बल्ब में नाइट्रोजन गैस क्यों भरी जाती है?

Light बल्ब में नाइट्रोजन के साथ एक अक्रिय गैस ऑर्गन भरी जाती है।

विद्युत बल्ब में अक्रिय गैस क्यों भरी जाती है?

विद्युत बल्ब में अक्रिय गैस इसलिए भरी जाती है क्योकि यह विद्युत बल्ब में उपस्थित टंगस्टन के साथ कोई क्रिया नहीं करती और टंगस्टन जल्दी खराब नहीं होता।

बल्ब का फिलामेंट किसका बना होता है?

विद्युत बल्ब का फिलामेंट टंगस्टन का बना होता है।

बल्ब का पूरा नाम क्या है?

इन्कैंडिसेंट लैम्प (Incandescent Lamp)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *